Menu

भा.कृ.अनु.प. - केंद्रीय कपास प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्थान एवं इंडियन फायबर सोसायटी मुंबई द्वारा "प्राकृतिक रेशों की उन्नत प्रसंस्करण प्रौद्योगिकी एवं उनके मूल्यवर्धित उत्पाद" पर संयुक्त रूप से राष्ट्रीय संगोष्ठी

भा.कृ.अनु.प. – केंद्रीय कपास प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्‍थान, मुंबई दिनांक 2 June, 2018 को “प्राकृतिक रेशों की उन्‍नत प्रसंस्‍करण प्रौद्योगिकी एवं उनके मूल्‍यवर्धित उत्‍पाद” पर एक राष्‍ट्रीय संगोष्‍ठी का आयोजन कर रहा है । इस संगोष्‍ठी का आयोजन इंडियन फायबर सोसायटी, मुंबई के सहयोग से किया जा रहा है ।  पूरे विश्‍व में प्राकृतिक रेशों का महत्‍व दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है । उनका उपयोग वस्‍त्र उद्योग में ही नहीं अपितु अन्‍य विविध अनुप्रयोगों में भी किया जा रहा है ।

भारत कपास, जूट, रैमी, सीसल, केनॉफ, नारियल, सन, केला, पटसन, अन्‍नस के पत्‍ते इत्‍यादि से प्राप्‍त प्राकृतिक रेशों की उपलब्‍धता में अग्रणीय है । प्राकृतिक रेशों का उत्‍पादन और प्रसंस्‍करण तथा कृषि आधारित तंतु-अवशेषों का मूल्‍यवर्धन, ग्रामीण क्षेत्र में निर्धन लोगों के लिए दीर्घकालिक रोजगार एवं सशक्‍तीकरण का एक जरिया बन सकता है ।


    इस संगोष्‍ठी का उद्देश्‍य प्राकृतिक रेशों की क्षमता के बारे में जागरुकता का निर्माण करना और एक दीर्घकालिक भविष्‍य के लिए मूल्‍यवर्धन द्वारा उनकी माँग को सुदृढ़ करना है । प्राकृतिक रेशों के प्रसंस्‍करण एवं मूल्‍यवर्धन की आधुनिक प्रगति से संबंधित जानकारी और विचारों के आदान-प्रदान के लिये एक मंच उपलब्‍ध कराना इस राष्‍ट्रीय संगोष्‍टी का प्रमुख उद्देश्‍य है । यह प्रत्‍याशित है कि संगोष्‍टी में विद्वान शैक्षिक, शोधकर्ता, उद्योग जगत के विशेषज्ञ और उद्यमी उपस्थित होंगे । यह संगोष्‍ठी उन्‍नत तकनीकी ज्ञान के प्रसार में कार्यालयीन हिन्‍दी भाषा के प्रयोग को प्रोत्‍साहित करने हेतु हमारी अखंडनीय प्रतिबध्‍दता को दोहराती है ।
 

CLICK HERE to download brochure

CLICK HERE to download Registration Form

back to top

About CIRCOT

Research

Services

Publications

Announcement

Other Links

  • kaçak bahis - bahis