Celebration of International Women’s Day 2020 at ICAR-CIRCOT, Mumbai

केंद्रीय कपास प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्थान, मुम्बई  में अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस 2020  का आयोजन

अन्तर्राष्ट्रीय महिलादिवस के उपलक्ष्य में दि. 11 मार्च 2020 को संस्थान की आंतरिक शिकायत समिति की तरफ से महिला कार्मिकों (स्थायी एवं कॉट्राक्चुअल) के लिये एक व्याख्यान का आयोजन किया गया। एडवोकेट श्रीमती. ममता भट्ट द्वारा ‘ घर और बाहरी दुनिया में महिलाओं के कानूनी अधिकार तथा परिवार और कार्यालयीन परिवेश में महिला उत्पीडन निवारण’  विषय पर व्याख्यान प्रस्तुत किया गया।

डॉ. श्रीमती. सुजाता सक्सेना, प्रभारी, रासायनिक एवं जैव-रसायनिक प्रक्रिया विभाग और अध्यक्ष, आंतरिक शिकायत समिति ने उपस्थितों को आंतरिक शिकायत समिति की गतिविधियों की जानकारी दी। एडवोकेट श्रीमती. ममता भट्ट जी ने बहुत ही सरल शब्दों में जेंडर असमानता, निजी स्वतंत्रता, पैतृक एवं ससुराल की संपत्ती पर कानूनी अधिकार, इच्छापत्र का महत्त्व, घरेलू एवं कार्यस्थल पर यौन उत्पीडन व निवारण, सोशल मिडिया का सुरक्षा हेतु उपयोग के बारे में प्रबोधन किया। उपस्थितों द्वारा पूछे गये प्रश्नों का समाधान करते हुए कहा कि महिलाओं को सामाजिक व कार्यालयीन जिवन में आत्मविश्वासपूर्वक व निडरता से अपना कार्य करना चाहिये। व्यक्तिगत जीवन में हमेशा सतर्क रहें और भावनाओं से ज्यादा  व्यवहार्यतापूर्वक निर्णय लें ।

इस अवसर पर वर्ष 2019 दौरान विभिन्न मंचोपर उमदा कार्य प्रदर्शन हेतु पुरस्कार प्राप्त करनेवाले महिला कार्मिकों का सम्मान किया गया। जलपान के साथ कार्यक्रम संपन्न हुआ।   

Celebration of International Women’s Day 2020 at ICAR-CIRCOT, Mumbai

On the occasion of International Women’s Day, a lecture for ladies staff members (permanent and contractual) was organized by the Internal Complaints Committee of the Institute on 11 March 2020. Advocate Ms. Mamta Bhatt delivered a lecture on ‘घर और बाहरी दुनिया में महिलाओं के कानूनी अधिकार तथा परिवार और कार्यालयीन परिवेश में महिला उत्पीडन निवारण Legal Rights Of Women At  Home And In The Outside World And Prevention Of Harassment In Domestic And Workplace  Environment’.

Dr. (Smt.) Sujata Saxena, In-charge, Chemical and Biochemical Processing Department and Chairman, Internal Grievance Committee informed the attendees about the activities of the Internal Grievance Committee. Advocate Smt. Mamta Bhatt  enlightened the gathering about different issues such as; gender inequality, personal liberty, legal rights over ancestral and in-law property, importance of will, sexual harassment and prevention at home & workplace, use of social media for protection. Addressing the questions asked by the attendees, she said that women should act confidently and fearlessly in social life and also at her workplace. Women should always be vigilant and take decisions more practically in personal life.

On this occasion, women personnel who received awards for their outstanding performance during the year 2019 were honored. The program concluded with refreshments.